हवाई यात्रियों के लिए आयी खुशखबरी, अब 18 अक्टूबर से पूरी यात्री क्षमता से साथ उड़ेंगी घरेलू फ्लाइट

0
1153

भारत के नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने एक बड़ी घोषणा करी है और ये घोषणा घरेलू एयरलाइनों को पूरी क्षमता से उड़ान भरने की अनुमति देने को लेकर है। ये आदेश 18 अक्टूबर से प्रभावी होगा।

जानकारी के अनुसार, भारत में और बाहर अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा को पूरी तरह से फिर से खोलने के प्रस्ताव के रूप में, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने एयरलाइनों को घरेलू मार्गों पर पूरी क्षमता से उड़ान भरने की अनुमति दे दी है।

कोविड -19 संक्रमण की दूसरी लहर बढ़ने पर, जून महीने में भारत में घरेलू उड़ान अपनी क्षमता के 50 प्रतिशत पर संचालित की जा रही है, लेकिन धीरे-धीरे यात्रियों की संख्या बढ़ने और सीट की आवश्यकता बढ़ रही है। यही वजह है कि अब 100 प्रतिशत क्षमता से घरेलू एयरलाइनों के उपयोग की अनुमति देने वाला मंत्रालय का आदेश 18 अक्टूबर से प्रभावी होगा। माना जा रहा है कि त्यौहार के सीजन में नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा लिया गया यह फैसला काफी हद तक यात्रियों को राहत देगा।

बता दें, मंत्रालय ने भारत में नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू नहीं करने के पीछे की वजह में से एक के रूप में घरेलू उड़ानों में सीटों की अनुपलब्धता का बार-बार हवाला दिया है। इसी के साथ यह भी तर्क दिया गया था कि विदेशों से अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर पहुंचने वाले यात्री पर्याप्त घरेलू कनेक्शन के बिना फंसे रहेंगे।

वहीं मंत्रालय ने आज के आदेश में कहा, “एयरलाइंस / हवाईअड्डा संचालक,यह सुनिश्चित करेंगे कि कोविड -19 के प्रसार को रोकने के दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन किया जाए और कोविड-उपयुक्त व्यवहार को सख्ती से लागू किया जाए।”

आपको बता दें, पिछले साल मार्च में भारत के अंदर और बाहर अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को निलंबित कर दिया गया था जब भारत ने महामारी की प्रारंभिक शुरुआत को रोकने के लिए कुल लॉकडाउन लगाया था। इन्हें दो दर्जन से अधिक देशों के साथ अस्थायी ‘एयर बबल’ व्यवस्था से बदल दिया गया था, जो सामान्य उड़ानों को फिर से शुरू करने के लिए लंबित थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here