अब भारतीय प्रवासियों के लिए दुबई में बिजनेस करना हुआ आसान, जानिए क्या है नियम

0
419

Golden Visa : 2019 में, यूएई ने दीर्घकालिक निवास वीजा के लिए एक नई प्रणाली लागू की। नई प्रणाली विदेशियों को संयुक्त अरब अमीरात में रहने, काम करने और अध्ययन करने में सक्षम बनाती है।

क्या है खास

गोल्डन वीजा विदेशी नागरिकों को 100% व्यापार स्वामित्व के साथ संयुक्त अरब अमीरात में रहने, काम करने और अध्ययन करने की अनुमति देता हैं। वीजा धारकों को राष्ट्रीय प्रायोजक की भी आवश्यकता से छूट दी गई है। भारतीय प्रवासी, जिन्हें दुबई में कोई बिजनेस करना है। उनके लिए यह बेहद ही सुनहरा मौका है।

गोल्डन वीज़ा 5 या 10 वर्षों के लिए जारी किया जाएगा और स्वचालित रूप से नवीनीकृत हो जाएगा।

कौन कर सकता है अप्लाई

यूएई कैबिनेट प्रस्ताव के अनुसार, निम्नलिखित समूह गोल्डन वीज़ा प्राप्त करने के पात्र हैं – विज्ञान और ज्ञान के विभिन्न क्षेत्रों में निवेशक, उद्यमी, विशिष्ट प्रतिभा और शोधकर्ता और होनहार वैज्ञानिक क्षमताओं वाले प्रतिभाशाली छात्र। इसके अलावा विशेष प्रतिभा, डॉक्टर, वैज्ञानिक, क्रिएटिव (कला और संस्कृति), इनोवेटर, कार्यकारी निदेशक, शिक्षक (प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में), खेल, पीएचडी धारकों, इंजीनियर भी गोल्डन वीजा अप्लाई के पात्र हैं।

छात्रों के लिए नियम

गोल्डन वीज़ा के लिए आवेदन करने के लिए छात्र को सार्वजनिक और निजी माध्यमिक विद्यालयों में न्यूनतम 95% मिला होना चाहिए। साथ ही विश्विद्यालय में दाखिले के लिए देश या विदेश के विश्वविद्यालय में स्नातक स्तर पर कम से कम 3.75 का GPA होना चाहिए।

कैसे कर सकते है अप्लाई

वीजा के संबंध में किसी भी पूछताछ के लिए फेडरल अथॉरिटी फॉर आइडेंटिटी एंड सिटीजनशिप (आईसीए) से वेबसाइट के माध्यम से संपर्क किया जा सकता है। इसके साथ ही कार्यालय टोल फ्री नंबर 600522222 पर काल कर सकते है। ऑफ़लाइन सहायता के लिए रेजीडेंसी और विदेशी मामलों के सामान्य निदेशालय (जीडीआरएफए) जाना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here