India

22 कैरेट, 23 कैरेट और 24 कैरेट के GOLD के बीच का क्या है फर्क, आखिर क्यों नहीं बनते 24 कैरेट सोने से ज्वेलरी?

दुनिया का हर शख्स सोना (GOLD) खरीदने की चाहत रखता है। विभिन्न कारणों से आप और हम सभी ने कभी ना कभी सोने (GOLD) की खरीदारी की होगी। ऐसे में अगर आप भी सोने की खरीदारी करने की योजना बना रहे हैं तो आपको खरीदारी से संबंधित कुछ बातों पर गौर करना जरूरी होगा।

सबसे पहले आपके लिए यह जानना आवश्यक है कि गोल्ड कैरेट क्या होते हैं और कितने प्रकार के होते हैं। सोने के आभूषण खरीदते समय हमें इस बात की भी जानकारी होनी चाहिए कि जो हम सोना खरीद रहे हैं वह 22 कैरेट सोने (GOLD) से बना है या फिर 24 कैरेट का है।

मगर हम और आप में से बहुत ही कम लोगों को इस बात की जानकारी होगी कि 22 कैरेट, 23 कैरेट और 24 कैरेट के बीच क्या अंतर होता है। अगर कोई निवेश के लिहाज से सोना खरीद रहा है तो उन्हें किस कैरेट के सोने की खरीदारी करनी चाहिए। अगर आपके जीवन में भी इस तरीके के सवाल उठते हैं तो ये आर्टिकल आपके लिए है।

गोल्ड कैरेट से जान सकते हैं सोने की शुद्धता

सोने (GOLD) की खरीदारी करने के समय सबसे पहले आपको 22 और 24 कैरेट के गोल्ड के बीच का अंतर मालूम होना चाहिए। दरअसल कैरेट से गोल्ड की शुद्धता की पहचान की जाती है। जितना अधिक कैरेट का सोना (GOLD) होगा वह उतना ही शुद्ध माना जाएगा। सोनी को जीरो से 24 के पैमाने पर मापा जाता है। जिसमें 24 कैरेट का सोना (GOLD) सबसे शुद्ध माना जाता है।

24 कैरेट और 22 कैरेट सोने के बीच का फर्क

24 कैरेट गोल्ड 99.9 प्रतिशत की शुद्धता को दर्शाता है। ऐसे में यह सोना प्योर माना जाता है। जबकि 22 कैरेट गोल्ड 91% प्योर होता है। 22 कैरेट के गोल्ड में 9% भाग अन्य धातुओं के मिश्रण से बना होता है। उदाहरण के लिए जिंक और तांबा भी 22 कैरेट वाले गोल्ड में मिलाया जाता है।

24 कैरेट का सोना किसी भी तरह की ज्वेलरी बनाने के लिए बहुत ही नरम माना जाता है। ऐसे में 24 कैरेट के गोल्ड से ज्वेलरी तो नहीं बल्कि निवेश के उद्देश्य से 24 कैरेट गोल्ड की खरीदारी की जा सकती है। जबकि अन्य धातुओं के मिश्रण के कारण 22 कैरेट का सोना (GOLD) ठोस और ज्यादा टिकाऊ माना जाता है।

24 कैरेट सबसे अधिक शुद्ध माना जाता है। ऐसे में इसका रेट अन्य कैरेट के रेट से थोड़ा ज्यादा महंगा रहता है। जबकि अगर 22 कैरेट की बात करें तो 22 कैरेट गोल्ड 24 कैरेट के लिहाज से सस्ता होता है।

24 कैरेट शुद्धता वाला सोना डिजाइन बनवाने के लिए उपयुक्त नहीं माना जाता है। ऐसे में निवेश के उद्देश्य से 24 कैरेट सोना खरीदा जा सकता है। जबकि 22 कैरेट के गोल्ड से ज्वेलरी बनवाई जा सकती है। 22 कैरेट के गोल्ड को 916 गोल्ड के नाम से भी पहचाना जाता है। वो इसलिए क्योंकि 91.67 प्रतिशत इसमें सोना शामिल होता है।

23 कैरेट सोना

23 कैरेट का सोना (GOLD) भी शुद्ध सोने की श्रेणी में आता है 23 कैरेट गोल्ड उस सोने को कहा जाता है जिसमें 95. 8% सोना और 4.2% अन्य धातुओं का मिश्रण होता है। 23 कैरेट गोल्ड 958 सोने के नाम से भी जाना जाता है। 23 कैरेट प्योरिटी वाला सोना थाईलैंड में अधिक लोकप्रिय है। मगर दुनिया के ज्यादातर देशों में अभी भी 22 या 24 कैरेट गोल्ड की ही ज्यादा खरीदारी की जाती है।

23 कैरेट सोने (GOLD) उन लोगों के लिए बेहतर साबित होता है जिन्हें उच्च क्वालिटी का सोना चाहिए होता है। 23 कैरेट के गोल्ड से भी आभूषण बनाए जाते हैं। लेकिन अगर आप निवेश के लिए सोने की खरीदारी करने जा रहे हैं तो आपको 24 कैरेट सोने की खरीदारी करनी चाहिए। लेकिन ज्वेलरी बनवाने के लिए 22 कैरेट का गोल्ड सबसे सही माना जाता है।

जानिए क्यों नहीं बनती है 24 कैरेट गोल्ड की ज्वेलरी

Dubai Gold Rate Today

24 कैरेट के सोने (GOLD) को प्योर गोल्ड माना जाता है। इसी कारण इसे आभूषण बनाने में इस्तेमाल नहीं किया जाता है 24 कैरेट सोने की डेंसिटी काफी कम होती है और यह काफी सॉफ्ट होता है। यदि मुलायम सोने से आकर्षक ज्वेलरी बनाने की कोशिश की जाए तो आपको इसमें अन्य धातु का मिश्रण भी करना पड़ेगा। ऐसे में ज्यादातर ज्वेलरी 22 कैरेट सोने (GOLD) की ही बनाई जाती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button