India

SpiceJet के यात्री 45 मिनट तक करते रहे बस का इंतजार, दिल्ली एयरपोर्ट पर चल दिए पैदल, DGCA ने शुरू की जांच

हैदराबाद से उड़ान भरकर दिल्ली हवाई अड्डे पहुंची स्पाइसजेट (SpiceJet) के विमान से उतरे कई यात्री बीते शनिवार की रात एयरपोर्ट पर पैदल चलते दिखाई दिए। ऐसा इसलिए क्योंकि एयरलाइन उन्हें टर्मिनल तक ले जाने के लिए तकरीबन 45 मिनट तक कोई बस नहीं उपलब्ध करा सकी। जिसके कारण यात्रियों को पैदल भी चलना पड़ा।

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के अनुसार, सूत्रों के हवाले से रविवार को जानकारी मिली है कि विमानन नियामक नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ने मामले की जांच करनी शुरू कर दी है।

DGCA ने शुरू की जांच

दूसरी तरफ SpiceJet ने अपने बयान में कहा है कि बसों को एयरपोर्ट तक आने में देर लगी है मगर उनके आने के बाद सभी पैसेंजर को बस में बैठाकर टर्मिनल की बिल्डिंग तक पहुंचाया गया है।आपको बताते चलें कि SpiceJet में वहां से उतरी सभी यात्री एयरपोर्ट की सड़क पर पैदल ही चलने लगे थे। जिसके बारे में जानकारी होने पर डीजीसीए ने जांच शुरू कर दी है।

आपको बताते चलें कि पैसेंजर्स को राजधानी स्थित दिल्ली एयरपोर्ट के रनवे के क्षेत्र में रोड पर चलने की इजाजत नहीं होती है। ऐसा कदम सुरक्षा के कारणों को ध्यान में रखते हुए उठाया जाता है। रनवे की रोड सिर्फ वाहनों के लिए होती है। ऐसे में एयरलाइंस अपने पैसेंजर्स को एरोप्लेन से टर्मिनल तक ले जाने के लिए बसों का उपयोग करता है।

SpiceJet एयरलाइंस ने किया यात्रियों के पैदल चलने की बात का खंडन

दरअसल, मिली जानकारी के अनुसार SpiceJet की हैदराबाद से उड़ान भरकर दिल्ली पहुंचने वाली लाइट रात को तकरीबन 11:24 पर हवाई अड्डे पर पहुंची थी। इसके बाद एक बार आ गई थी और उसने फ्लाइट के कुछ यात्रियों को टर्मिनल नंबर 3 पर पहुंचाया था।

सूत्रों ने जानकारी देते हुए कहा कि शेष बचे यात्रियों ने तकरीबन 45 मिनट तक इंतजार किया और उन्हें कोई बस नहीं मिली। जिसके बाद वे टर्मिनल की ओर पैदल चलने लगे। जिसकी दूरी लगभग डेढ़ किलोमीटर थी। हालांकि लगभग 10 मिनट ही यात्री पैदल चलेंगे उसी दौरान उन्हें लेने के लिए बस पहुंच गई। इस पूरे वाकए के बारे में SpiceJet एयरलाइंस की तरफ से बयान जारी करते हुए कहा गया,”यह सूचना है कि SpiceJet की हैदराबाद दिल्ली उड़ान के यात्रियों को 6 अगस्त को टर्मिनल की ओर पैदल जाने पर विवश किया गया यह पूरी तरह गलत है और इसका खंडन किया जाता है।”

SpiceJet एयरलाइंस ने अपने बयान में आगे कहा,” टर्मिनल इमारत तक यात्रियों को ले जाने के लिए बस आने में थोड़ा वक्त लगा। हमारे कर्मचारियों के बार-बार अनुरोध करने के बावजूद कुछ यात्रियों ने टर्मिनल की तरफ चलना शुरू कर दिया वह कुछ ही मीटर आगे की तरफ बढ़ें होंगे उसी दौरान बसें आ गईं। जिनमें बैठाकर यात्रियों को टर्मिनल की तरफ ले जाया गया।

उधर, SpiceJet एयरलाइंस डीजीसीए के आदेशों का पालन करते हुए अपनी 50 फ़ीसदी से अधिक फ्लाइटों का संचालन नहीं कर रहा है। डीजीसीए ने जुलाई महीने में स्पाइसजेट की फ्लाइट ऊपर आठ हफ्तों का प्रतिबंध लगा दिया था।ऐसा इसलिए क्योंकि 19 जून से 5 जुलाई तक स्पाइस जेट के विमान में तकनीकी खामियों की कम से कम 8 घटनाएं देखने को मिली थी। जिसके बाद नागर विमानन मंत्रालय ने इस बारे में सख्त रवैया अपनाया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button