UAE

दुबई में नए हिंदू मंदिर के दर्शन के लिए उमड़े श्रद्धालु, क्यूआर कोड से मिली लोगों को एन्ट्री, जानिए मंदिर की खासियत

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में निवास कर रहे हिंदुओं के लिए एक बड़ी खबर है। यूएई में हिंदू मंदिर की पहली झलक देखने को मिली है। इस मंदिर को इसी माह में खोला गया है। लेकिन आपको बताते चलें कि अभी इस मंदिर की ओपनिंग नहीं हुई है और उससे पहले ही इसके बारे में चर्चाएं जोर पकड़ रही हैं ।

मंदिर की प्रमुख खासियत यह है कि इस मंदिर में सभी धर्मों के लोग आ जा सकते हैं और इस हिंदू मंदिर में 16 भगवानों की मूर्तियां रखी है और पूजा करने के अलावा अन्य लोगों को भी मंदिर में जाने की इजाजत है।

इस मंदिर में 9 दिनों तक विशेष प्रार्थना सभा का भी आयोजन किया गया और इस दौरान सब भगवानों की पूजा की गई। अगस्त माह की आखिरी में मंदिर में सिखों के पवित्र ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब को भी मंदिर में स्थान दिया गया।

क्यूआर कोड के जरिए बुक होता है अप्वाइंटमेंट

आपको बताते चलें कि मंदिर के अंदर का वातावरण काफी सुंदर है और इसकी खूबसूरती देखने लायक है। मंदिर के हाल में एक बड़ा सा 3D प्रिंटेड गुलाबी कमल है जो पूरे गुंबद पर दिखता है।

कई लोगों को इसे देखने का अवसर उस दौरान मिला जब ईश्वर की स्थापना के दौरान आयोजित कार्यक्रमों में उन्होंने हिस्सा लिया और यह मंदिर ‘पूजा गांव’ के तौर पर मशहूर जबेल अली में बना है। इसी जगह पर कई चर्च और गुरु नानक दरबार गुरुद्वारा भी है।

आपको बताते चलें कि 1 सितंबर को अनौपचारिक तौर पर इसे खोला गया था। मंदिर प्रबंधन ने क्यूआर कोड बेस्ड बुकिंग सिस्टम लागू किया है। वेबसाइट के माध्यम से क्यूआर कोड का उपयोग करते हुए कई लोगों ने मंदिर में दर्शन प्राप्त किए।

वर्तमान में मंदिर परिसर में हो रहा है केवल मंत्र उच्चारण

मंदिर खुलने के पहले ही दिन से मंदिर में दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं का ताता लगा हुआ है। और सप्ताह के अंत में भीड़ और भी बढ़ जाती है। लेकिन क्यूआर कोड के कारण श्रद्धालुओं को एंट्री मिलने में परेशानी हो रही है और जिसके चलते श्रद्धालुओं की संख्या सीमित हो गई। भीड़ का प्रबंधन और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए इस प्रोसेस को लागू किया गया है।

वर्तमान में मंदिर के परिसर में केवल मंत्रोच्चारण किया जा रहा है। 14 पंडित इस समय मंदिर में मंत्र पढ़ रहे हैं और यह सभी पंडित भारत से यूएई हुए हैं।

आपको बताते चलें कि सुबह 7:30 बजे से लेकर 11:00 बजे तक और फिर दोबारा शाम 3:30 बजे से लेकर रात 8:30 बजे तक मंत्र उच्चारण जारी रहता है। श्रद्धालुओं को भी इस मंत्र उच्चारण में भाग लेने की अनुमति है। मंत्रोच्चारण के अलावा मंदिर के परिसर में और किसी भी प्रकार की कोई भी गतिविधि नहीं हो रही है।

5 अक्टूबर से आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा मंदिर

यूएई में बने हिंदू मंदिर को 5 अक्टूबर से आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा। मंदिर सुबह 6:30 बजे से लेकर रात 8:00 बजे तक खुला रहेगा। मंदिर प्रशासन की ओर से मिली जानकारी के अनुसार 4 अक्टूबर को मंदिर को औपचारिक तौर पर खोला जाएगा। यहां पर ध्यान देने वाली बात यह कि अक्टूबर के आखिरी तक मंदिर में दर्शन करने के लिए अपॉइंटमेंट पूरे हो चुके हैं।

5 अक्टूबर के दिन भी श्रद्धालुओं ने वेबसाइट के माध्यम से बुकिंग की है उन्हें सीमित समय के लिए मंदिर के परिसर में प्रवेश मिल सकेगा। बुकिंग सिस्टम अक्टूबर के आखिरी तक रहेगा और इसके बाद सदस्यों को मुफ्त में इंट्री दी जाएगी। फिर श्रद्धालु किसी भी समय मंदिर आकर दर्शन कर सकते हैं। श्रद्धालुओं से आगरा किया गया है कि वह मंदिर आने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट का उपयोग करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button