UAE

5 साल पहले दुबई कमाने गए गए भारतीय कामगार की मौ’त, 18 दिन बाद स्वदेश लौटा पार्थिव शरीर

नौकरी करने के लिए विदेश जाने अक्सर खाड़ी के देशों में नौकरी करना पसंद करते हैं। ऐसे में वहां पर काफी संख्या में भारतीय मौजूद हैं।

इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आयी। दरअसल हाल ही में नौकरी के लिए भारत के उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले के लालगंज थानाक्षेत्र से गए एक कामगार की दुबई की मौ’त हो गई थी। जिसका पा’र्थिव शरीर अब 18 दिनों बाद गांव लौटा है। युवक का पा’र्थिव शरीर देखकर परिवार जन फ’फक कर रोने लगे और पूरे गांव में ची’ख-पु’कार मच गई है।

साल 2017 से कर रहे थे दुबई में काम

आपको बताते चलें कि साल 2017 के नवंबर महीने में  दुर्गा प्रसाद दुबई में नौकरी करने के लिए गए थे। तब से लेकर करीब 5 साल से वे वहां पर एडवांस यूनाइटेड कंपनी में जनरेटर ऑपरेटर के पद पर कार्यरत थे। लेकिन बीते 18 दिनों पहले दुबई से उनकी माता मीना देवी के पास फोन आया और उधर से उन्हें जानकारी दी गई कि दुर्गा प्रसाद की मौ’त हो चुकी है और फोन पर उन्हें मौ’त का कारण बताते हुए कहा गया कि दुर्गा प्रसाद की हार्ट अ’टै’क से मौ’त हुई है।

अपने बेटे की मौ’त की खबर पाकर बीते 18 दिनों से उनकी मां उनके पा’र्थिव शरीर का इंतजार कर रही थी। दुर्गा प्रसाद की परिवारी जन बस्ती जिले के जिलाधिकारी से बेटे का पा’र्थिव शरीर दुबई से वापस लाने की गुहा’र लगा रहे थे।

परिजनों का है रो- रो कर बुरा हाल

अब जब उनके बेटे का पा’र्थिव शरीर एंबुलेंस की मदद से घर पहुंचा है तो परिवार में दुर्गा प्रसाद की पत्नी चंदा देवी, माता मीना देवी, पिता निर्मल प्रसाद और भाई पवन कुमार के साथ अन्य परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। दुर्गा प्रसाद का पा’र्थिव शरीर दुबई से वापस आने की खबर पाकर आसपास के गांव के लोग भी दुर्गा प्रसाद के घर पर इकट्ठा हो गए। पत्नी व मां के करुण क्रंदन को देख हर किसी की आंख नम हो गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button