World

Emirates Airline ने दी बड़ी अपडेट, दुबई से नाइजीरिया के लिए 5 फरवरी से फिर शुरू होगी उड़ानें

Emirates Airline ने 5 फरवरी से दुबई से नाइजीरिया के लिए उड़ानें फिर से शुरू करने की घोषणा करी है। वहीं इस घोषणा के बाद Emirates Airline अबूजा (Abuja) और लागोस (Lagos) से दुबई आने और जाने के लिए दैनिक उड़ानें संचालित करेगी।

जानकरी के अनुसार, Emirates Airline दुबई से ईके 785 के जरिए 11:00 बजे प्रस्थान करेगी और 15:40 बजे अबूजा (Abuja) पहुंचेगी। वहीं वापसी की उड़ान ईके 786 अबुजा से 19:00 बजे उड़ान भरेगी और अगले दिन 04:35 बजे दुबई पहुंचेगी। फ्लाइट EK 783 लागोस के लिए दुबई से 10:30 बजे प्रस्थान करेगी, 15:40 पर लागोस पहुंचेगी। वहीं वापसी की उड़ान ईके 784 लागोस से 18:10 बजे प्रस्थान करेगी, अगले दिन 04:15 बजे दुबई पहुंचेगी।

सभी उड़ानें Emirates Airline की ऑफिशियल बेवसाइट पर ओटीए के साथ और ट्रैवल एजेंटों के माध्यम से बुक की जा सकती हैं।

वहीं दुबई के साथ नाइजीरिया से यात्रा करने वाले यात्रियों को उनके अंतिम गंतव्य के रूप में 48 घंटे के पीसीआर परीक्षण की आवश्यकता होती है। यात्रियों को एक अनुमोदित सुविधा पर किए गए परीक्षण के लिए एक क्यूआर कोड के साथ एक वैध नकारात्मक कोविड -19 पीसीआर परीक्षण प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा, और वैधता की गणना उस समय से की जानी चाहिए जब नमूना एकत्र किया गया था।

दुबई पहुंचने पर, यात्रियों को एक अतिरिक्त कोविड -19 पीसीआर परीक्षण से गुजरना होगा और परीक्षण के परिणाम प्राप्त होने तक स्व-क्वारंटाइन में रहना होगा। वहीं अधिक जानकारी के लिए Emirates Airline की ऑफिशियल बेवसाइट पर जाकर जानकारी ली जा सकती है।

आपको बता दें, इससे पहले Emirates Airline ने 29 जनवरी से दुबई और पांच अफ्रीकी देशों के बीच यात्री परिचालन फिर शुरू की घोषणा की थी। इस घोषणा में Emirates एयरलाइन ने जानकारी दी थी कि 29 जनवरी से अदीस अबाबा (Addis Ababa), इथियोपिया ( Ethiopia); दार एस सलाम (Dar Es Salaam), तंजानिया (Tanzania); नैरोबी ( Nairobi), केन्या (Kenya); हरारे (Harare), जिम्बाब्वे (Zimbabwe); तीन दक्षिण अफ्रीकी गेटवे जोहान्सबर्ग (Johannesburg) , केप टाउन (Cape Town) और डरबन (Durban) के लिए भी उड़ाने शुरू होंगी।

वहीं एयरलाइन ने कहा कि अमीरात के अफ्रीकी गेटवे के अंदर और बाहर उड़ान भरने वाले यात्री दुबई से जुड़ सकते हैं और यूरोप, मध्य पूर्व, अमेरिका, पश्चिम एशिया और आस्ट्रेलिया से आगे के कनेक्शनों की एक श्रृंखला से जुड़ सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button