World

नौकरी दिलाने के बहाने युवक से ठगी; टूरिस्ट वीजा पर भेजा DUBAI, कमाई तो दूर खाना तक नहीं हुआ नसीब

उत्तर प्रदेश के जनपद गोरखपुर के एक युवक से विदेश भेजने के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है। गोरखपुर के एक युवक को आरोपियों ने टूरिस्ट वीजा पर दुबई भेज दिया। जहां पर उसे नौकरी तो दूर की बात रही खाना तक नसीब नहीं हो रहा था।

आखिरकार उसने परेशान होकर अपने परिजनों को आपबीती सुनाते हुए वतन वापसी की गुहार लगाई, जिसे बाद परिजनों ने फर्जीवाड़े का शिकार हुए युवक को वापस बुला लिया है। पीड़ित युवक के परिजनों की शिकायत पर गुलरिया पुलिस ने युवक को टूरिस्ट वीजा पर विदेश भेजने वाले आरोपी युवक निजाम के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

लगभग 90 हजार रुपए लेकर गया था

गुलरिया की तरकुलहा के रहने वाले अकरम पुत्र मोहम्मद हनीफ ने कहा कि उसके गांव का ही रहने वाला निजाम बेरोजगार युवकों को विदेश भेजने का काम करता है। निजाम ने ही पीड़ित के पिता से कहा था कि अपने बेटे को दुबई भेज दीजिए वहां से काम के लिए खास ऑफर आया है और तनख्वाह भी ठीक-ठाक मिलेगी। जिसके बाद निजाम की बातों में आकर अकरम ने 90 हजार रुपए निजाम को दे दिए।

1 महीने पहले भेजा था युवक को दुबई

गुलरिया के तरकुलहा के निवासी अकरम के बेटे वसी उल्लाह को आरोपी ने तकरीबन 1 महीने पहले टूरिस्ट वीजा पर विदेश भेज दिया था। जहां पर 1 महीने रहने के बाद वसीउल्लाह ने फोन पर अपने परिजनों से आपबीती बताई और कहा कि निजाम ने उसे धोखा देकर यहां फंसा दिया है यहां पर काम धंधा तो दूर की बात खाना भी ढंग से नसीब नहीं हो रहा है।और कैसे भी करके मुझे घर बुला लीजिए।

फोन पर बेटे की व्यथा सुनने के बाद अकरम ने अपने किसी परिचित रिश्तेदार की मदद से पैसे का प्रबंध करके बेटे वसीउल्लाह को घर बुला लिया है। इसके बाद जब उन्होंने इस बारे में निजाम को बताया तो उसने कबूल किया कि उसने गलती की है और पैसा अपने काम-धंधे में लगा लिया है।

पुलिस को दी मामले की तहरीर

आरोपी युवक निजाम ने पीड़ित के पिता से 15 दिन बाद पैसा लौटाने का वादा किया था। मगर बाद में निजाम पीड़ित को धमकाने लगा और पैसा ना देने की बात भी कही। इससे आहत होकर पीड़ित अकरम ने शनिवार को पुलिस को इस पूरे मामले की जानकारी दी। पुलिस ने शनिवार को आरोपी निजाम के विरुद्ध धारा 419, 420 406 और 506 आईपीसी के अंतर्गत केस दर्ज कर लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button