World

DUBAI Expo में भारतीय पवेलियन ने पूरे किए 100 दिन, अब तक पहुंच चुके हैं 7.40 लाख दर्शक

संयुक्त अरब अमीरात के शहर दुबई में लगे सबसे बड़े व्यापारिक मेले दुबई एक्सपो (DUBAI Expo) ने 100 दिन पूरे कर लिए हैं। 300 दिनों के दौरान 7.40 लाख से ज्यादा लोक भारतीय पवेलियन में सांस्कृतिक एवं भौगोलिक विविधता देखने के लिए जा चुके हैं।

दुबई एक्सपो (DUBAI Expo) में भारती पवेलियन के 100 दिन पूरे होने के खास मौके पर उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री, भारत सरकार पीयूष गोयल ने ट्वीट करते हुए कहा पूरी दुनिया इसे इनोवेशन वृद्धि और अवसरों के रूप में निहार रही है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ” भारतीय प्रगत की कहानी के महान उत्सव को अनुभव करने के लिए पवेलियन में पहुंचे।”

पीयूष गोयल ने किया था उद्घाटन

आपको बता दें भारतीय पवेलियन का उद्घाटन पिछले साल यानी कि 2021 में 1 अक्टूबर की तारीख को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने किया था। दुबई एक्सपो (DUBAI Expo) में आने वाले दर्शकों के बीच भारतीय पवेलियन आकर्षण का केंद्र बन चुका है।

बीती 8 जनवरी तक के डैडी के अनुसार अब तक भारतीय पवेलियन में 7,40,356 लोग पहुंच चुके हैं। दुबई एक्सपो (DUBAI Expo) का समापन 31 मार्च 2022 को होगा। भारतीय पवेलियन में इस हफ्ते जम्मू कश्मीर सप्ताह मनाया जा रहा है। इसी के साथ टूरिज्म पर फोकस किया जा रहा है। जम्मू कश्मीर एडमिनिस्ट्रेशन ने 2.5 अरब डालर का इन्वेस्टमेंट लाने के लिए छह समझौतों पर हस्ताक्षर भी किए हैं।

इसके पहले भी कई मंत्री कर चुके हैं दौरा

आपको बता दें कि भारती पवेलियन मी पीयूष गोयल के पहले भी भारत सरकार के कई मंत्री भी पहुंचे थे। विदेश मंत्री एस जयशंकर, स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंदविया, शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी के अलावा कई वरिष्ठ मंत्री भी इसके पहले इंडियन पवेलियन शिरकत कर चुके हैं।

दुबई एक्सपो (DUBAI Expo) में भारत पवेलियन में बना है अयोध्या का राम मंदिर

दुबई एक्सपो (DUBAI Expo) में इंडियन पवेलियन में अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर और अबू धाबी में बन रहे पहले हिंदू मंदिर की प्रति(झांकी) मौजूद है। इसके साथ ही वाराणसी का अस्सी घाट और स्टेचू ऑफ यूनिटी की भी झांकी बनी हुई है। तो वहीं, काशी विश्वनाथ मंदिर, हंपी मंदिर, ताजमहल, सूर्य मंदिर के साथ भारत की अन्य ऐतिहासिक धरोहर भी इसमें शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button