World

UAE में कामगारों के हित में बड़ा फैसला, वेतन से जुड़े विवादों को हल करने के लिए नई समिति की स्थापना

संयुक्त अरब अमीरात में कामगारों के वित्तीय विवादों से निपटने में मदद करने के लिए एक नई समिति की स्थापना की गई है, जिसमें अवैतनिक मजदूरी, नियोक्ता और कामगारों की समस्या के निदान पर काम किया जाएगा।

जानकारी के अनुसार, मानव संसाधन और अमीरात मंत्रालय (MoHRE) ने सोमवार को घोषणा करी कि उसने कामगारों के वित्तीय अधिकारों से संबंधित सामूहिक श्रम विवादों को देखने के लिए एक समिति की स्थापना की है और यह निर्णय पहले यूएई कैबिनेट द्वारा जारी किया गया था।

New UAE labour law

वहीं MoHRE में मानव संसाधन मामलों के कार्यवाहक अवर सचिव खलील खुरे ने कहा कि समिति की स्थापना का निर्णय श्रम विवादों के विधायी और संगठनात्मक ढांचे को मजबूत करने के ढांचे के भीतर आता है, जो श्रम संबंधों और उसके कार्यकारी विनियमों को विनियमित करने वाले कानून के अनुरूप है।

एक ऐसा तरीका जो दोनों पक्षों के अधिकारों की गारंटी देता है और श्रम विवादों के शीघ्र निपटारे के लिए है। वहीं समिति, जो MoHRE की अध्यक्षता में है, संबंधित अधिकारियों के प्रतिनिधि सदस्यों का गठन करती है, जिसमें अपील न्यायाधीश की अदालत, चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री का एक प्रतिनिधि, स्थानीय श्रम समिति का एक प्रतिनिधि या श्रम संकट टीम का प्रतिनिधि शामिल है।

वहीं समिति कामगारों और नियोक्ता के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में श्रम वित्तीय विवादों का समाधान करेगी। समिति के सदस्य गवाहों से भी सुनेंगे और विवाद को तय करने के लिए जिसे भी उचित समझें, उन्हें बुलाएंगे।

समिति सुनवाई की तारीख की अधिसूचना की तारीख से कम से कम तीन दिनों की अवधि के भीतर दोनों पक्षों को अपने बचाव का समर्थन करने वाले दस्तावेजों के साथ एक रक्षात्मक ज्ञापन प्रस्तुत करने की अनुमति देगी। वहीं खुरे ने बताया कि समिति मामले को संभालने के पहले सत्र की तारीख से 30 दिनों के भीतर निर्णय जारी करेगी। इसके बाद निर्णय को कार्यान्वयन के लिए सक्षम विभाग को भेजा जाएगा।

कैबिनेट के फैसले ने समिति को नियोक्ता की बैंक गारंटी के परिसमापन, और बीमा कवरेज के मूल्य के संवितरण का अनुरोध करने की अनुमति दी, ताकि विवाद के लिए श्रमिक पक्ष के अधिकारों की रक्षा की जा सके और सामूहिक श्रम विवाद के किसी भी प्रभाव को संबोधित किया जा सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button